क्या भारत में अविवाहित जोड़े होटल में रुक सकते हैं?

Jan 05, 2019 | 2 Comments

अगर भारत के किसी भी नागरिक की उम्र 18 वर्ष से अधिक है तो वो लोग होटल्स में रुक सकते है। अगर लड़का और लड़की बालिग है और शादीशुदा नहीं है तो भी वो होटल में रुक सकते है क्योकि अब कोर्ट ने धारा 497 खत्म कर दी है ,इसलिए पुलिस इम्मोरल या अडल्ट्री में आपके खिलाफ कारवाही नहीं कर सकती क्योकि होटल्स में प्रेमी और प्रेमिका का साथ में रुकना आपसी समझोता है। अब देश में ऐसा कोई कानून नहीं है जो होटलों को ऐसे अविवाहित मेहमानों के स्वागत करने से रोकता हो, या फिर ऐसे लोगों को ठहरने की इजाजत न दे जो उस शहर के रहने वाले नहीं है जिस शहर के होटल में वो कमरा लेना चाहते हैं।

valentine celebration destination

अविवाहित जोड़े को होटल बुक करने से पहले कुछ बातो का ध्यान रखना जरुरी है।

  • होटल में रुकने वाले लड़का और लड़की की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • होटल में एंट्री से पहले भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कोई भी एक आई. डी. जैसे आधार कार्ड, वोटर आई.डी. कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस या      पासपोर्ट ऑरिजिनल दिखाना होगा और इनमे से किसी एक डॉक्यूमेंट की फोटोकॉपी अपने हस्ताक्षर करके देनी होगी।
  • डाक्यूमेंट्स की फोटोकॉपी लड़का और लड़की दोनों को देना अनिवार्य है।
  • दोनों भारत के नागरिक हो।
  • दोनों को अपने डाक्यूमेंट्स को खुद से हस्ताक्षर करके होटल्स में एक कॉपी जमा करनी होगी।
  • “अविवाहित जोड़े लिव-इन रिलेशनशिप में हो सकते हैं, होटल के कमरों में चेक-इन कर सकते हैं और जो चाहें कर सकते हैं। इस पर कोई कानून और प्रतिबंध नहीं हैं। ”
                                                               - ताज हसन, दिल्ली पुलिस के मुख्य प्रवक्ता, क्विंट, 29 जुलाई 2016

    “ऐसा कोई कानून नहीं है जो अविवाहित जोड़ों को होटलों में एक साथ रहने से रोकता है। एक साथ रहने का चयन एक व्यक्तिगत पसंद है और आंदोलन की स्वतंत्रता के अंतर्गत आता है, जिसे प्रतिबंधित नहीं किया जा सकता है। ”
                                                                             - वरिष्ठ अधिवक्ता सुधा रामलिंगम, न्यूज़ मिनट, 19 मई 2015

    Leave a comment